गरीब सवर्णों के आक्षरण पर तेजस्वी की चुप्पी, बोले अभी मुद्दा भारत बंद

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने 10 सितंबर को कांग्रेस के भारत बंद को समर्थन देने का एलान किया है. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर कांग्रेस भारत बंद कर रही है. तेजस्वी ने कहा कि महागठबंधन के सभी नेता सड़क पर उतरेंगे. वहीं गरीब सवर्णों को आरक्षण के मुद्दे पर तेजस्वी ने कहा कि अभी हम लोगों का एजेंडा भारत बंद है. एक दो दिन में इस मुद्दे पर अपना स्टैंड रखेंगे.

 

तेजस्वी यादव ने कहा कि 2 अप्रैल को एससी-एसटी एक्ट को लेकर जब भारत बंद हुआ था, अभी भी उन लोगों को जो अधिकार मिलना चाहिए था वो नहीं मिला है. मनुवादी सोच के लोग सत्ता पर काबिज हो गए हैं, जो नागपुरिया कानून को लागू करना चाहते हैं. वे बाबा साहब के संविधान को खत्म करना चाहते हैं. जो गरीब लोग हैं, जिसका सबसे ज्यादा शोषण हुआ है, हमलोग उनके साथ खड़े हैं. हमलोग दलितों-आदिवासियों के साथ थे, हैं और रहेंगे.

सीपी ठाकुर की चिट्ठी पर तेजस्वी यादव का बयान

बीजेपी के सांसद सीपी ठाकुर की चिट्ठी पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी शुरू से मांग थी कि एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ जो लोग सड़क पर उतरे थे और उनपर जो मुकदमा हुआ था, वो अबतक वापस नहीं लिया गया है. हमलोगों ने हमेशा से मांग की है कि दलितों के भारत बंद के दौरान उन पर से सारे मुकदमे वापस लिए जाएं. उनको संविधान ने जो अधिकार दिया है, वो नहीं मिल रहा है. उनके अधिकार को छीनने का प्रयास किया जा रहा है. बता दें कि आज सीपी ठाकुर ने अपनी चिट्ठी में मांग की है कि 6 सितंबर को भारत बंद के दौरान जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, सरकार को उन्हें बिना देरी किए छोड़ देना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने गरीब सवर्णों को आरक्षण दिए जाने की वकालत की.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: