बेपनाह मुहब्बत का दर्दनाक अंत, जाने पूरी कहानी

कटिहार – जिले के पोठिया ओपी क्षेत्र के डूमर कोसी बरांडी नदी में शुक्रवार की दोपहर करीब 12 बजे एक प्रेमी जोड़े ने नदी में छलांग लगाकर एक साथ जान दे दी. स्थानीय लोगों के द्वारा प्रेमी युगल को नदी में डूबते देखकर बचाने का प्रयास किया गया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. दोनों प्रेमी युगल की मौत डूबकर हो गयी. घटना की सूचना पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गयी. लोगों की भीड़ मौके पर जुट आयी. घटना की जानकारी पुलिस को मिलते ही मौके पर पहुंची और तैराक के सहायता से दोनों शवों को बाहर निकाला गया. घटना स्थल पर जितनी जुबान उतनी बातें हो रही थी.

 

स्थानीय लोगों ने बताया कि मृतक लड़की की पहचान डूमर ग्राम निवासी 19 वर्षीय निशा कुमारी पिता डोमन रॉय के रूप में की गयी है. वही युवक की पहचान पूर्णिया जिला के काझा कोठी निवासी पवन मंडल का पुत्र 22 वर्षीय मनीष मंडल के रूप में की गयी है. जानकारी मिलते ही लड़की व लड़का के परिजन मौके पर पहुंचकर घटना के संबंध में जानकारी लेने में जुटे थे. लड़की पक्ष के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा है. जानकारी मिलते ही पोठिया ओपी के सअनि उदय पासवान दल बल के साथ पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर जांच प्रक्रिया में जुट गये थे. सूचना मिलते ही समेली अंचलाधिकारी पंकज कुमार सिंह भी पहुंचकर मामले की जानकारी ली.

 

प्रेम प्रसंग में सात जनम तक जीने मरने की कसम खाये प्रेमी युगल ने नदी में छलांग लगाकर जान देने की घटना ने सब को झकझौर कर रख दिया है. चर्चा है कि दोनों प्रेमी युगल के बीच वर्षों से प्रेस प्रसंग चल रहा था. मृतक लड़की डुम्मर निवासी निशा कुमारी के पड़ोस के ही एक व्यक्त का साला 22 वर्षीय पूर्णिया के काझा कोठी निवासी मनीष मंडल को अपना दिल दे बैठी थी. लड़का मनीष मंडल अपने जीजा व दीदी का घर अकसर आता था. यहां आने-जाने के दौरान दोनों के बीच नजरें मिली और प्यार में तब्दील हो गयी. लोगों का कहना है कि काफी दिनों से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था. दोनों शादी कर घर बसाना चाहते थे. लेकिन परिवार के लोग इस प्रेम से सहमत नहीं थे.

 

चूंकि लड़का गरीब घर से था. बताया जाता है कि प्रेमी मनीष मंडल काझा कोठी चौक पर अंडा का व्यवसाय करता था. जिसके कारण लड़की के परिजन उससे अपनी बेटी की शादी कराने का विरोध कर रहे थे. लेकिन लड़की हर हाल में उसी लड़के से शादी करना चाहती थी. हालांकि ऐसी किसी मामले से लड़की के परिजन साफ इंकार कर रहे हैं. लड़की के परिजन कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. घटना की सूचना पर पोठिया ओपी पहुंचे मृतक मनीष मंडल के चाचा रविन मंडल ने बताया कि शुक्रवार की सुबह आठ बजे घर से 1800 रूपया लेकर अंडा खरीदने की बात कहकर निकला था. लेकिन वह स्थानीय बाजार पूर्णिया की बजाय डुम्मर आ गया. इन्होंने कहा कि लड़का-लड़की के बीच किसी तरह का कोई प्रेम प्रसंग वाली बात थी या नहीं उनलोगों को जानकारी नहीं है. पुलिस ने बताया कि म1तक युवक के पॉकेट से 1600 रुपया बरामद किया गया है. यानी उसने अपने घर से डुम्मर पहुंचने तक में मात्र दो सौ रुपया खर्च किया था. दोनों के परिजनों में घटना के बाद कोहराम मचा हुआ है. जितनी जुबान उतनी बातें हो रही है. लोगों को कहना है कि दोनों के परिजन को प्रेम प्रसंग के बारे में जानकारी थी लेकिन दोनों ही छिपा रहे हैं.

 

मामला प्रेम प्रसंग में अपनी जान गंवा दी लड़की निशा कुमारी इंटर की छात्रा थी. जिसका नामांकन भगवती मंदिर कॉलेज में था. बताया जाता है कि लड़की पढ़ने में काफी तेज थी. जिसका प्रेम प्रसंग काझा कोठी के मनीष मंडल से पूर्व से चल रहा था. जिसकी भनक घरवालों को नहीं थी. घटना के पूर्व घाट जानेवालों रास्ते में राहगीरों ने बताया कि एक लड़के के साथ दो लड़की जा रही थी. आखिर किया हुआ जो दोनों ने नदी में छलांग लगा दी. युवक मृतक निशा के घर के पड़ोस के संबंधी है. खबर लिखे जाने तक थानाध्यक्ष अमित कुमार मामले की जांच में जुटी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: